Connect with us

Hi, what are you looking for?

ayodhya-ram-mandir

धर्म

Ayodhya Ram mandir

Ayodhya Ram mandir: जानिये क्या है मंदिर का इतिहास और इससे जुड़ी खास बातें

ayodhya-ram-mandir

अयोध्या जिसे अवध भी कहा जाता है भारत के उत्तर प्रदेश में स्थित है। यह फैजाबाद के पूर्व में घाघरा नदी पर स्थित है। इस प्राचीन शहर अयोध्या को हिंदुओ के सात पवित्र शहरों में से एक माना जाता है। जो महान भारतीय महाकाव्य रामायण में राम के जन्म और उनके पिता दशरथ के शासन के साथ जुड़े होने के कारण प्रतिष्ठित है। रामायण के अनुसार यह एक समृद्ध और अच्छी तरह से मजबूत राज्य था। आइये जानते हैं Ayodhya Ram mandir किसने बनाया था? इसका इतिहास क्या है? और इससे जुड़ी खास बातें।

Ayodhya Ram mandir history

  • हिंदू धार्मिक ग्रंथों के अनुसार राम मंदिर वह स्थान है जहां भगवान विष्णु ने अपने सातवें अवतार भगवान राम के रूप में जन्म लिया था। अयोध्या, उत्तर प्रदेश में स्थित वही स्थान है। जन्म स्थान पर भगवान राम को समर्पित एक मंदिर है। यह एक विवादित जगह है जो हिंदुओं और मुसलमानों के बीच है।
  • हिंदू धार्मिक ग्रंथों के अनुसार राम मंदिर वह स्थान है जहां भगवान विष्णु ने अपने सातवें अवतार भगवान राम के रूप में जन्म लिया था। अयोध्या, उत्तर प्रदेश में स्थित वही स्थान है। जन्म स्थान पर भगवान राम को समर्पित एक मंदिर है। यह एक विवादित जगह है जो हिंदुओं और मुसलमानों के बीच है।
  • हिंदुओं के पौराणिक ग्रंथ रामायण में कहा गया है कि राम का जन्मस्थान अयोध्या शहर में सरयू नदी के तट पर है। हिंदू के एक वर्ग का दावा है कि श्री राम का जन्म स्थान वहीं है जहां बाबरी मस्जिद बनी हुई है। 15वीं शताब्दी में पहली बार मुगल बादशाह बाबर के सेनापति मीर बार ने इस स्थान पर मंदिर को गिराकर मस्जिद का निर्माण कराया।
  • ऐसा माना जाता है कि यह स्थान 1528 से 1853 तक मुसलमानों के लिए एक धार्मिक स्थल था। बाबरी मस्जिद और राम जन्म स्थान के इतिहास और स्थान पर राजनीतिक, ऐतिहासिक और सामाजिक-धार्मिक बहसें, हुई
  • 1992 में, हिंदू राष्ट्रवादियों द्वारा बाबरी मस्जिद के विध्वंस ने व्यापक हिंदू-मुस्लिम हिंसा को जन्म दिया। पुरातत्व खुदाई में मस्जिद के मलबे के नीचे एक मंदिर के होने का संकेत मिला है।
  • अयोध्या शहर में कहा जाता है कि यहां करीब 6000 मंदिर हैं, हालांकि ऐसा माना जाता है कि रामकोट के राम जन्मभूमि परिसर में स्थित मंदिरों को सबसे पवित्र माना जाता है। इस परिसर में कुछ प्रमुख हिंदू तीर्थों में शामिल हैं

राम मंदिर के अंदर प्रमुख स्थल

ayodhya-ram-mandir

  1. राम जन्म भूमि वह स्थान जहां भगवान राम का जन्म हुआ।
  2. सीता रसोई सीता की रसोई, भगवान राम की पत्नी सीता देवी लक्ष्मी का अवतार थी।
  3. केकई भवन भगवान राम की सौतेली माता केकई का कमरा, वह स्थान जहां भगवान राम के छोटे भाई भरत का जन्म हुआ।
  4. कौशल्या भवन – कौशल्या कक्ष, राम की माता।
  5. सुमित्रा भवन – सुमित्रा का कमरा, राम की सौतेली माँ और लक्ष्मण और शत्रुघ्न की माँ।
  6. अंगद टीला – तीर्थयात्री अंगद, वानर राजकुमार को समर्पित।
  7. लव कुश मंदिर – राम और सीता के प्रेम और पुत्रों को समर्पित
  8. हनुमान मंदिर – भगवान हनुमान को समर्पित मंदिर।

Important Infomation of Ayodhya Ram mandir

  • अयोध्या राम मंदिर स्थान: साई नगर, अयोध्या, उत्तर प्रदेश 224123
  • मंदिर के खुलने और बंद होने का समय: ग्रीष्म – 07.30 बजे से 11.30 बजे तक और शाम 04.30 से 09.30 बजे तक।
  • सर्दी – सुबह 09:00 बजे से 11:00 बजे तक और शाम 04:00 बजे से रात 9:00 बजे तक
  • निकटतम रेलवे स्टेशन: राम मंदिर से लगभग 2 किलोमीटर की दूरी पर अयोध्या रेलवे स्टेशन।
  • निकटतम हवाई अड्डा: राम मंदिर से लगभग 146 किलोमीटर की दूरी पर लखनऊ हवाई अड्डा
  • जाने का सबसे अच्छा समय: अक्टूबर-फरवरी घूमने का सबसे अच्छा समय है और (सुबह-सुबह, सुबह 8:00 बजे से पहले)।
  • प्राथमिक देवता: राम
  • महत्वपूर्ण त्योहार: राम नवमी, दशहरा और दीवाली।
  • दूसरे नाम: अयोध्या मंदिर, अयोध्या राम लला मंदिर।
  • जिला: फैजाबाद

अयोध्या राम मंदिर किसने बनवाया?

अयोध्या सरयू नगर के किनारे बसा हुआ एक स्थान है। यह राजा दशरथ की राजधानी हुआ करती थी। इतिहासकारों के अनुसार अयोध्या को बौद्धकाल में साकेत कहा जाने लगा था। हालांकि यह अभी भी शोध का विषय है। महाराजा कुश जो कौशाम्बी के राजा थे जब उन्हें अयोध्या के बारे में पता चला तो उन्होंनंे इसको पुननिर्माण कराया और राम मंदिर में काली कसौटी वाले पत्थरों का उपयोग किया।
यह भी कहा जाता है कि चक्रवर्ती सम्राट विक्रमादित्य एक बार अयोध्या पहुंचे जहां उन्हें उस भूमि पर कुछ चमत्कारी अनुभव हुआ। तब ऋषि मुनियों ने उन्हें इस भूमि के बारे में बताया कि यह भगवान राम की जन्मभूमि है। तब उन्होंने वहां विभिन्न जगहों पर 360 मंदिर बनवाएं। क्या आप जानते हैं: राम जन्मभूमि एक विवादित स्थान है जो हिंदुओं और मुसलमानों के बीच है। सुप्रीम कोर्ट ने 9 नवंबर 2019 को राम मंदिर बनाने का फैसला दिया था।

निष्कर्श

उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव की घोषणा के तुरंत बाद अयोध्या में राम जन्मभूमि का निर्माण तेजी से शुरु हो गया था। जल्द ही श्रद्धालु इसके नए स्वरूप के दर्शन कर पाएंगे। आज के लेख में हमने आपको Ayodhya Ram mandir से जु़ड़ी आवश्यक जानकारी को साझा किया है। आशा करते है कि आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई होगी। पोस्ट से जुड़ी या अन्य किसी भी जानकारी के लिए नीचे दिये गए कमेंट बॅाक्स में क्लिक करें।

धन्यवाद

यह भी पढ़ें

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You May Also Like

ब्लॉग

Prerna Up:- शिक्षा व्यवस्था को सुधरने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा mission prerna up .in की शुरुआत की गयी थी। ये मिशन सफल...

लखनऊ

भारत के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश की राजधानी lucknow है। जिसे दुनियाभर में नवाबों के शहर के नाम से जाना जाता है। लखनऊ...

ब्लॉग

चांद धरती से कितना दूर है| Chand dharti se kitna door hai? हम सभी जानते हैं कि आज चांद पर पहुंचना मात्र कल्पना नहीं...

ब्लॉग

आस-पास कहाँ-कहाँ रेस्टोरेंट मौजूद हैं- कैसे पता करें   आस-पास कहां-कहां रेस्टोरेंट मौजूद हैं और कैसे आप उन्हें खोज सकते है, इस आर्टिकल को...