Connect with us

Hi, what are you looking for?

मेरा-पढ़ाई-में-मन-नहीं-लगता-क्या-करूं?

ब्लॉग

मेरा पढ़ाई में मन नहीं लगता क्या करूं?

मेरा पढ़ाई में मन नहीं लगता क्या करूं? पढ़ाई में मन लगाने के आसान तरीके

mera-padhne-me-man-nahi-lagta-kya-karu

शिक्षा हमारे जीवन के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। हमें बचपन से ही पढ़ाई करने के लिए कहा जाता हैं। हमारे जीवन के कई साल हम सिर्फ अपनी पढ़ाई को दे देते हैं। हांलाकि इसका कोई अंत नहीं है। शिक्षा ऐसी चीज है जिसे आप अपनी पूरी उम्र भी दे दें तो भी यह कम है। खैर हम आज बात कर रहे हैं मेरा पढ़ाई में मन नहीं लगता क्या करूं? विषय कि जो सबसे ज्यादा विद्यार्थियों के लिए विशेष है। ऐसे कई विद्यार्थी होंगे जो पढ़ना चाहते हैं। पर उनका पढ़ाई में मन ही नहीं लगता। ऐसा कई बार होता है कि हम मन लगाकर पढ़ना तो बहुत चाहते हैं पर किसी न किसी कारण से विचलित या डिस्ट्रैक्ट हो जाते हैं। इंटरनेट में बच्चे अक्सर ऐसे सवाल का जवाब ढ़ूढ़ रहे हैं। जिनमे से कुछ सवाल हैं।

  • मेरा पढ़ाई में मन नहीं लगता क्या करू?
  • मन लगाकर पढ़ाई कैसे करें?
  • पढ़ाई में मन लगाने के कुछ उपाय बताएं
  • मैं कैसे पढ़ाई में मन लगाऊं?

कई बार हमारे आस-पास का माहौल ऐसा होता है जिससे बार-बार हम डिस्ट्रैक्ट हो जाते हैं। आज का लेख उन विद्यार्थियों के लिए है जिनका पढ़ाई में मन नहीं लगता। आज हम आपको कुछ ऐसे उपायों के बारे में बताएंगे जिसे अपनाकर आप पढ़ाई पर ज्यादा फोकस कर पाएंगे। तो चलिये लेख को शुरु करते हैं।

पढ़ाई में मन न लगने के क्या कारण हैं?

पढ़ने में आपका मन किन कारणों से नहीं लगता सबसे पहले तो आपको ये जानने की जरूरत है। क्योंकि जब तब आप कारणों के बारे में नहीं जान पाएंगे। तब तक आप अपनी पढ़ाई में मन न लगने की समस्या का हल भी नहीं निकाल पाएंगे। वैसे तो अगर देखा जाए तो इसका एक कारण है प्राकृतिक परिवेश से दूरी। पहले के समय में देखे तो लोग सूर्योदय से पहले उठकर अपने दिन की शुरुआत करते थे, योग करते थे, पूजा-पाठ करते थे। जिससे उनका मन शांत रहता था और वे अपने सारे कार्य समय से कर लेते थे। पर आजकल की इस भाग-दौड़ भरी जिंदगी में लोगों के पास समय कम है और काम ज्यादा। जिसे वो मैनेज नहीं कर पाते और इसीलिये उनका मन भटका हुुआ रहता है और किसी एक कार्य को भी पूरे मन से नहीं कर पाते।

पढ़ाई में मन न लगने के कुछ कारण निम्नलिखित हो सकते हैं।

  1. अशांत मन
  2. टीवी ज्यादा देखना
  3. ज्यादा समय मोबाइल, कंप्यूटर या लैपटॅाप को देना।
  4. अच्छी संगति का न होना
  5. गलत दिनचर्या
  6. शोर-शराबे का माहौल
  7. अपने परिवार के साथ कम समय बिताना
  8. स्कूल में किसी प्रकार की समस्या होना
  9. टीचर से अपनी बात न कह पाना
  10. गलती हो जाने का भय
  11. आत्मविश्वास की कमी

मेरा पढ़ाई में मन नहीं लगता क्या करूं- पढ़ाई में मन कैसे लगाए?

padhai-me-man-kaise-lagaye

ऊपर हमने आपको पढ़ाई में मन न लगने के कारण बताएं है। इनके अलावा भी कई कारण हो सकते हैं। पहले के लोग पढ़ाई करने के लिए प्राकृतिक संसाधनों का उपयोग करते थे। जिससे कि वे पढ़ाई में रुचि लेते थे और उनका मन भी लगता था। पर अब टेक्नोलॅाजी का इस्तेमाल बहुत ज्यादा हो रहा है। जिसने विद्यार्थियों के अंदर सोचने की क्षमता या क्रिएटिविटी को कम कर दिया है। अब वे किसी भी समस्या को टेक्नालॅाजी के इस्तेमाल से ही सुलझाने का प्रयास करते हैं। अब सवाल यह है कि ऐसे कौन से उपाय है या ऐसे कौन से तरीके हैं जिनसे पढाई में मन लगे। इन सभी सवालों का जवाब आपको मिलने वाला है।

पढ़ाई में मन लगाने के कुछ उपाय

अपने लक्ष्य को निर्धारित करें।
सही फील्ड का चुनाव
अपने आप को मोटिवेट करें
टाइम टेबल सेट करें
सिलेबस को समझिये
अपने नोट्स खुद बनाए
ग्रुप स्टडी करें
मेडिटेशन व योग करें
पढ़ने का सही तरीका अपनाएं
कुछ चीजों को खुद से दूर करें
पढ़ने के दौरान ब्रेक लें
अपना मूड ठीक रखें

1- अपने लक्ष्य को निर्धारित करें।

पढ़ने के लिए सबसे पहले अपना लक्ष्य बनाएं। आप किसलिए पढ़ना चाहते हैं। क्या पढ़ने से आपको जीवन में कुछ फायदा होने वाला है। आप पढ़ लिखकर क्या करना चाहते हैं। इन सभी सवालों का जवाब पहले ढ़ूढ लें। जब आप पढ़ने के लिए एक लक्ष्य निर्धारित कर लेंगे। तो आपके लिए पढ़ाई में मन लगाना आसान हो जाएगा।

2- सही फील्ड का चुनाव

पढ़ने से पहले यह सोचे कि क्या आपने सही फील्ड का चुनाव किया है या नहीं? कहीं आपने कोई ऐसा विषय तो नहीं चुना जिसमे आपकी रुचि ही नहीं है। पढ़ाई के लिए जिसमे आपकी रुचि हो वह ही विषय चुनें। जैसे अगर आपको विज्ञान में रुचि है तो आप विज्ञान को विषय के रूप में लीजिये। पर किसी भी दबाव में ऐसा विषय न लें जिसमें आपकी रुचि ही न हो।

3- अपने आप को मोटिवेट करें

अगर आप पढ़ाई में मन नहीं लगा पा रहे हैं तो आप खुद को मोटिवेट करना शुरु करें। किसी कामयाब व्यक्ति के संघर्ष की कहानियां पढ़िये या अपने सपनों के बारे में सोचकर खुद को मोटिवेट करें। इसके लिए आप सफल लोगों की बायोग्राफी पढ़िये या माता-पिता के पास बैठकर उनके समय में वो किन कठिनाइयों का सामना करके आगे बढ़ें जानिये। पढ़ाई में मन तब ही लगेगा जब आप खुद को मोटिवेटेड रखेंगे।

4- टाइम टेबल सेट करें

जब आप अपना लक्ष्य तय कर लें। तब पढ़ने के लिए एक टाइम टेबल बना ले और इसे स्ट्रिक्टली फॅालों करें। जिन विषयों को आप पढ़ रहे हैं उन्हें बराबर समय दें। जिस विषय में आप कमजोर हैं उसे अतिरिक्त समय दें।

5- सिलेबस को समझिये

टाइम टेबल बनाने के बाद आपको सिलेबस को समझना जरूरी है। सिलेबस को पहले अच्छे से समझिये और हो सके तो इसे अपनी स्टडी टेबल के पास हमेशा रखे। और जिस विषय को आप खत्म करते जाए उसे सिलेबस में अपडेट करते जाएं। ताकि आपको पता चलता रहे कि आपको कितने समय में कितना सिलेबस पूरा करना है।

6- अपने नोट्स खुद बनाए

आप जब भी पढ़ाई करने बैठे अपने पास में एक नोटबुक और हाथ में एक पेन जरूर रखें। पढ़ते समय जो भी महत्वपूर्ण चीजों हो उन्हें नोट करते चलें। खुद नोट्स बनाने की आदल डालें। किसी भी टॅापिक को डायग्राम बनाकर समझने की कोशिश करें। इससे आपकी पढ़ाई में रूचि बनी रहेगी।

7- ग्रुप स्टडी कर

अगर अकेले पढ़ने में आपको मन नहीं लगता है तो आप ग्रुप स्टडी करें। जब ग्रुप स्टडी करेंगे तो किसी विषय पर अटकने पर आप अपने दोस्तों से इस पर चर्चा करेंगे। विषय से जुड़े हुए सवालों पर ग्रुप डिस्कशन कीजिये जिससे आपके सारे प्वाइंट्स क्लीयर हो जाएं। जब आव सवाल पूछना शुरु करेंगे और उनके जवाब आपको मिलने लगेंगे। तो आपको पढाई में बोरियत महसूस नहीं होगी और आपका मन भी लगेगा।

8- मेडिटेशन व योग करें

पढ़ाई में मन न लग रहा हो या किसी और काम में आपका मन कम लगता हो तो अपनी इस समस्या को दूर करने के लिए आप मेंडिटेशन व योग करें। यह सबसे ज्यादा फायदेमंद है। रोजाना कुछ समय इसके लिए भी निकालें। जब आप पढ़ना शुरु करें तो उसके कुछ देर पहले मेडिटेशन अवश्य करें और अपने मन को एकाग्र करने की कोश्शि करें। जब मन बिल्कुल शांत हो जाए तब पढ़ना शुरु कीजिये।

9- पढ़ने का सही तरीका अपनाएं

इस बात पर आपको विशेष ध्यान देने की जरूरत है कि आपका पढ़ने का तरीका क्या है? कुछ लोग बिस्तर मे लेट के पढ़ते है जो कि बिल्कुल गलत है। कुछ लोग रात में नींद से उठकर पढ़ने लगते हैं यह भी सही नहीं है। आप जब भी पढ़े अपनी स्टडी टेबल के पास रखी चेयर में ही बैठ कर पढ़ें। पढ़ने वाले स्थान में पढ़ेगे तो मन लगेगा।

10- कुछ चीजों को खुद से दूर करें

पढ़ते समय जो भी चीजें आपको भटकाती हैं या आपका माइंड डिस्ट्रैक्ट करती हैं उन्हें खुद से दूर रखें। जैसे मोबाइल, टैब आदि। यह सब अगर आपके आसपास होगा तो आपका समय बर्बाद करेगा।

11- पढ़ाई के दौरान ब्रेक लें

आप अगर लगातार एक जगह बैठ के पढ़ते रहेंगे तो आपका शरीर और दिमाग दोनो ही थक जाएगा। और आपका पढ़ाई में मन नहीं लगेगा। इसलिये जरूरी है कि आप बीच में 10 से 15 मिनट का ब्रेक लें। और खुद को रिफ्रेश करें। इसके लिए आप म्यूजिक सुनें या अपने परिवार के साथ समय बिताएं।

12- अपना मूड ठीक रखें

यह सबसे ज्यादा जरूरी बात है क्योंकि अगर आप अपने मूड को सही रखेंगे तो आपका पढ़ने में मन भी लगेगा। नींद की कमी, डिप्रेशन, नकारात्मक विचार यह सब आपका मूड खराब कर सकते हैं। इससे बचने के लिए निगेटिव लोगों से दूर रहें, अच्छी नींद लें, हेल्दी खाना खाएं और पढ़ते समय किसी और चीज के बारे में न सोचे।

निष्कर्श

तो दोस्तों आज मैनें अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आपको पढ़ाई में मन लगाने के कुछ तरीकों के बारे में बताया है। वे सभी लोग जो इंटरनेट पर सर्च कर रहे हैं मेरा पढाई में मन नही लगता क्या करू? उन्हें अपने सवालों का जवाब मिल गया होगा। ऊपर बताए हुए तरीकों को अगर आप अपनाएंगे तो निश्चित ही आपको सकारात्मक परिणाम देखने को मिलेंगे। आज का आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताएं और आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें। साथ ही अगर आपको किसी अन्य विषय में जानना हो तो कमेंट बॅाक्स में हमें जरूर बताएं।

धन्यवाद,

और भी पढ़ें-

भारत में कितने राज्य हैं?

एक इंच में कितने सेंटीमीटर होते हैं?

सर्दी में क्या खाना चाहिए?

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You May Also Like

ब्लॉग

Prerna Up:- शिक्षा व्यवस्था को सुधरने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा mission prerna up .in की शुरुआत की गयी थी। ये मिशन सफल...

लखनऊ

भारत के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश की राजधानी lucknow है। जिसे दुनियाभर में नवाबों के शहर के नाम से जाना जाता है। लखनऊ...

ब्लॉग

चांद धरती से कितना दूर है| Chand dharti se kitna door hai? हम सभी जानते हैं कि आज चांद पर पहुंचना मात्र कल्पना नहीं...

ब्लॉग

आस-पास कहाँ-कहाँ रेस्टोरेंट मौजूद हैं- कैसे पता करें   आस-पास कहां-कहां रेस्टोरेंट मौजूद हैं और कैसे आप उन्हें खोज सकते है, इस आर्टिकल को...